Follow us

22 जनवरी को अयोध्या में जुटेंगे देश दुनिया के वीवीआईपी

RAM MANDIR

अयोध्या। 22 जनवरी को अयोध्या में होने वाली राम लला की प्राण प्रतिष्ठा में देश दुनिया के वीवीआईपी शामिल होंगे। इस दिन 40 से अधिक VVIP मेहमानों ने अपने-अपने चार्टड विमानों से अयोध्या आने की इच्छा जताई है, लेकिन यहां एक साथ इतनी बड़ी संख्या में चार्टड विमान उतारने की व्यवस्था नहीं हैं। ऐसे में एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने आसपास के राज्यों में पार्किंग की व्यवस्था की है।

बताया जा रहा है कि चार्टर्ड विमानों की पार्किंग आसपास के 5 राज्यों के 12 एयरपोर्ट पर होगी। जैसे कि उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, एमपी और उत्तराखंड में विमान पार्क किये जायेंगे। बताया जा रहा है कि अयोध्या में सिर्फ चार विमानों के पार्किंग की ही व्यवस्था है। उसमें से एक पार्किंग पीएम नरेंद्र मोदी के लिए आरक्षित की गई है। आपको बता दें कि एयरपोर्ट अथॉरिटी ने एक हजार किलो मीटर की रेंज के 12 एयरपोर्ट का चयन किया है, जहां पर विमानों की पार्किंग की जाएगी।

इसमें लखनऊ, खजुराहो, जबलपुर, भोपाल और देहरादून के एयरपोर्ट शामिल हैं। वहीं उत्तर प्रदेश के प्रयागराज, कानपुर, वाराणसी, कुशीनगर और गोरखपुर में भी विमान पार्क किये जायेंगे जबकि गया और देवघर एयरपोर्ट पर भी विमान पार्किंग की व्यवस्था होगी। बताया जा रहा है कि लखनऊ में 8, कानपुर में 10, काशी में 6 और प्रयागराज व कुशीनगर में 4-4 चार्टड विमानों के पार्किंग की व्यवस्था की गई है। वहीं देहरादून और खजुराहो में 4-4 विमान पार्क किये जायेंगे जबकि इंदौर में 10 और गोरखपुर में 17 विमान पार्क करने की व्यवस्था की गई है।

इसे भी पढ़ें- कैट का अनुमान, प्राण प्रतिष्ठा पर देश में होगा एक लाख करोड़ का व्यापार

इसे भी पढ़ें- प्राण प्रतिष्ठा समारोह में अतिथियों को दिया जायेगा गीताप्रेस के ‘अयोध्या दर्शन’ का प्रसाद

nyaay24news
Author: nyaay24news

disclaimer

– न्याय 24 न्यूज़ तक अपनी बात, खबर, सूचनाएं, किसी खबर पर अपना पक्ष, लीगल नोटिस इस मेल के जरिए पहुंचाएं। nyaaynews24@gmail.com

– न्याय 24 न्यूज़ पिछले 2 साल से भरोसे का नाम है। अगर खबर भेजने वाले अपने नाम पहचान को गोपनीय रखने का अनुरोध करते हैं तो उनकी निजता की रक्षा हर हाल में की जाती है और उनके भरोसे को कायम रखा जाता है।

– न्याय 24 न्यूज़ की तरफ से किसी जिले में किसी भी व्यक्ति को नियुक्त नहीं किया गया है। कुछ एक जगहों पर अपवाद को छोड़कर, इसलिए अगर कोई खुद को न्याय 24 से जुड़ा हुआ बताता है तो उसके दावे को संदिग्ध मानें और पुष्टि के लिए न्याय 24 को मेल भेजकर पूछ लें।

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS