Follow us

ठगी का शिकार हुईं पुलिस अफसर श्रेष्ठा ठाकुर, फर्जी IRS से रचाई शादी, मामला दर्ज

Police Officer Shrestha Thakur,

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के शामली जिले के थाना भवन में सीओ के पद पर तैनात श्रेष्ठा ठाकुर धोखेबाजी का शिकार हो गई हैं। उन्हें ये धोखा अपनी शादी में मिला है। अब श्रेष्ठा ने अपने पति रोहित राज के ख़िलाफ ग़ाज़ियाबाद के कौशांबी थाने में एफआईआर दर्ज कराई है। सीओ श्रेष्ठा ने अपनी शिकायत में कहा है कि उनके पति रोहित राज ने ख़ुद को आईआरएस अधिकारी बताकर उनसे शादी की थी, जिसका पता चलने के बाद ग़ाज़ियाबाद पुलिस ने आरोपी पति को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

बता दें कि श्रेष्ठा ठाकुर 2008 बैच की अधिकारी हैं और वे इन दिनों शामली के थाना भवन क्षेत्र में क्षेत्राधिकारी के पद पर पोस्टेड हैं। श्रेष्ठा ने पुलिस को दिए शिकायती पत्र में आरोप लगाया है कि उन्होंने साल 2018 में रोहित रंजन से शादी की थी। उस वक्त रोहित ने खुद को आईआरएस बताया था और कहा था कि उनकी पोस्टिंग रांची में डिप्टी कमिश्नर के पद पर है। वह रोहित रंजन से मेट्रिमोनियल साइट के ज़रिए मिलीं थीं। श्रेष्ठा ठाकुर ने अपनी शिकायत में बताया कि उनके पति रोहित राज ने साल 2008 के आईआरएस अधिकारी रोहित राज जो राँची में तैनात थे उनके नाम का ग़लत इस्तेमाल करता था। इसका पता उन्हें शादी के दो साल बाद चला।

बावजूद इसके उन्होंने अपनी शादी को चलाने की कोशिश की और पति व उसके परिवार की सभी आर्थिक जरूरतों को पूरा करती रहीं। उन्होंने अपनी सैलरी पर लोन लेकर भी पति के परिवार की हर तरह से आर्थिक सहायता की। वहीं आरोपी रोहित उनके नाम का भी ग़लत इस्तेमाल करने लगा और लोगों से धोखाधड़ी कर पैसे वसूलने लगा। उसकी इन हरकतों से तंग आकर उन्होंने तीन साल पहले उससे तलाक़ ले लिया, फिर भी रोहित राज उनके साथ तस्वीरें दिखाकर और उनका नाम बताकर लोगों से ठगी करता रहा।

अब जबकि ठगी की शिकायतें हद से ज्यादा बढ़ गई हैं तो उन्हें मजबूरन फिर से उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज कराना पड़ रहा है। पुलिस ने आरोपी रोहित राज के ख़िलाफ़ फर्जी आईआरएस अधिकारी बनकर धोखे से शादी करना, उत्पीड़न व धोखाधड़ी करने जैसी गंभीर धाराओं में दर्ज कर उसे जेल भेज दिया है।

इसे भी पढ़ें- सामूहिक विवाह फर्जीवाड़ा: समाज कल्याण मंत्री ने दिखाई सख्ती, कहा- ‘जांच में लाएं तेजी’

इसे भी पढ़ें- फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर लोगों को ठगने वाले दो शातिर गिरफ्तार

nyaay24news
Author: nyaay24news

disclaimer

– न्याय 24 न्यूज़ तक अपनी बात, खबर, सूचनाएं, किसी खबर पर अपना पक्ष, लीगल नोटिस इस मेल के जरिए पहुंचाएं। nyaaynews24@gmail.com

– न्याय 24 न्यूज़ पिछले 2 साल से भरोसे का नाम है। अगर खबर भेजने वाले अपने नाम पहचान को गोपनीय रखने का अनुरोध करते हैं तो उनकी निजता की रक्षा हर हाल में की जाती है और उनके भरोसे को कायम रखा जाता है।

– न्याय 24 न्यूज़ की तरफ से किसी जिले में किसी भी व्यक्ति को नियुक्त नहीं किया गया है। कुछ एक जगहों पर अपवाद को छोड़कर, इसलिए अगर कोई खुद को न्याय 24 से जुड़ा हुआ बताता है तो उसके दावे को संदिग्ध मानें और पुष्टि के लिए न्याय 24 को मेल भेजकर पूछ लें।

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS

Top Headlines

Live Cricket