Follow us

अब साल में दो बार होंगे बोर्ड एक्जाम, इस सेशन से शुरू होगी व्यवस्था

Union Education Minister Dharmendra Pradhan

नई दिल्ली। केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने दसवीं और बारहवीं को बोर्ड परीक्षाओं को लेकर बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने कहा है कि अब बोर्ड परीक्षाएं साल में दो बार आयोजित होंगी। ये व्यवस्था अगले सेशन यानी 2025-26 से शुरू की जाएगी। दो बार परीक्षा देने की स्थिति में छात्रों के बेस्ट स्कोर को ही फाइनल माना जाएगा। शिक्षा मंत्री ने इस बात का ऐलान एक कार्यक्रम के दौरान किया।

आपको बता दें कि कुछ समय पहले एक साक्षात्कार में भी उन्होंने कहा था कि छात्रों के पास विकल्प होगा कि वे जिस परीक्षा में चाहें, उसमें बैठें। वे एक बार परीक्षा देना चाहते हैं तो एक बार दें और दो बार देना चाहते हैं तो दो बार दें। छात्र अगर एक बार परीक्षा देकर संतुष्ट हैं और उन्हें लगता है वे पहली परीक्षा से ही बेस्ट स्कोर हासिल कर सकते हैं तो दोबारा से परीक्षा में बैठना अनिवार्य नहीं है। उन्होंने कहा, साल में दो बार बोर्ड परीक्षाएं कराने का केवल एक ही मकसद है बच्चों के ऊपर से एग्जाम स्ट्रेस कम करना।

जैसे कि अगर छात्र एक परीक्षा के दौरान खुद को तैयार नहीं पाते हैं तो वे उस एग्जाम स्किप कर सकते हैं या फिर एक परीक्षा में उनके पेपर अच्छे नहीं गए हैं तो वे दोबारा मिलने वाले मौके का फायदा उठा सकते हैं। शिक्षा मंत्री ने कहा कि नेशनल एजुकेशन पॉलिसी 2020 का एक लक्ष्य ये भी है कि छात्रों के ऊपर से स्ट्रेस कम किया जाए। इसी पॉलिसी के तहत अगले सेशन यानी साल 2025-26 से दसवीं और बारहवीं की परीक्षाएं साल में दो बार आयोजित की जाएंगी।

इसे भी पढ़ें- कैमरे की नजर में होगी बोर्ड परीक्षा, गर्दन घुमाते ही बजेगा कंट्रोल रूम का फोन

इसे भी पढ़ें- Board Exam 2024: कब जारी होंगी बोर्ड परीक्षाओं की डेटशीट, यहां जानें लेटेस्ट अपडेट

nyaay24news
Author: nyaay24news

disclaimer

– न्याय 24 न्यूज़ तक अपनी बात, खबर, सूचनाएं, किसी खबर पर अपना पक्ष, लीगल नोटिस इस मेल के जरिए पहुंचाएं। nyaaynews24@gmail.com

– न्याय 24 न्यूज़ पिछले 2 साल से भरोसे का नाम है। अगर खबर भेजने वाले अपने नाम पहचान को गोपनीय रखने का अनुरोध करते हैं तो उनकी निजता की रक्षा हर हाल में की जाती है और उनके भरोसे को कायम रखा जाता है।

– न्याय 24 न्यूज़ की तरफ से किसी जिले में किसी भी व्यक्ति को नियुक्त नहीं किया गया है। कुछ एक जगहों पर अपवाद को छोड़कर, इसलिए अगर कोई खुद को न्याय 24 से जुड़ा हुआ बताता है तो उसके दावे को संदिग्ध मानें और पुष्टि के लिए न्याय 24 को मेल भेजकर पूछ लें।

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS