Follow us

छात्रा ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा- पापा, उसे मत छोड़ना, जिसने मुझे मरने…

suicide

बांदा। जिले से एक हैरान देने वाली घटना आ रही है। यहां शोहदे की धमकियों से परेशान होकर हाईस्कूल की छात्रा ने अपनी जान दे दी। सूचना पर पहुंची पुलिस को छात्रा के शव के पास से एक सुसाइड नोट भी मिला है, जिसमें छात्रा ने अपना दर्द बयां किया है। उसने सोसाइड नोट में शोहदे द्वारा दी जा रही धमकी का जिक्र किया है।

घटना बिसंडा थाना क्षेत्र के एक गांव की है। यहां एक 17 वर्षीय छात्रा ने मंगलवार की सुबह घर में बल्ली से फंदा लगाकर ख़ुदकुशी कर ली। बताया जा रहा है कि जब छात्रा काफी देर तक कमरे से बाहर नहीं निकली तो परिजनों को शंका हुई और उन्होंने खपरैल तोड़कर उसके कमरे में झांका तो वहां छात्रा फंदे से लटकी हुई मिली। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई। छात्रा के पिता का कहना है कि उसकी लाश के पास से एक सुसाइड नोट मिला है, जिसमें उसने लिखा है कि गांव का लड़का उसे धमकाता था, जिसकी वजह से वह खुद को ख़त्म कर रही है। उसके नोट में लिखा है ‘पापा, जिसने मुझे मरने के लिए मजबूर किया, उसे मौत से कम सजा न दिलाना।

इधर छात्रा की मौत से मां व छोटी बहनें बदहवास हैं। वहीं पिता भी दीवारों पर सिर पटक-पटक कर रो रहा है। बताया जा रहा है कि आरोपी भी छात्रा के ही गांव का रहने वाला है, लिहाजा मौके पर पुलिस भी तैनात कर दी गई है। बिसंडा थाना इंस्पेक्टर श्याम बाबू शुक्ला ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि प्रथम दृष्टया मामला खुदकुशी है। घटना के बाद ही आरोपी के घर पर दबिश दी गई, लेकिन न तो वह मिला और न ही कोई परिवार वाला। उसके नाते-रिश्तेदारों व साथियों का पता लगाया जा रहा है ताकि उसे जल्द पकड़ा जा सके। इसके अलावा छात्रा के मोबाइल की कॉल डिटेल भी निकाली जा रही है।

सुसाइड नोट में छात्रा ने लिखा है कि गांव के लड़के ने उसे जबरन फोन दिया और कहता था कि मुझसे बात करो, नहीं तो मैं तुम्हें बदनाम कर दिया। छात्रा के परिजनों का भी आरोप है कि चार माह पहले बेटी ने उन्हें आलोक की हरकतों के बारे में बताया था, तब उन्होंने उसके घर जाकर आलोक की शिकायत की थी लेकिन उसका कोई नतीजा नहीं निकला था। आरोपी अपनी हरकतों से बाज नहीं आया और वह लगातार उसे परेशान करता रहा। आखिर में बेटी को जान देने पर मजबूर होना पड़ा। छात्रा के शब्दों में उसकी मानसिक स्थिति साफ झलक रही है।

उसने लिखा है कि एक तरफ आलोक धमकाता था तो दूसरी ओर घर वाले भी बदनामी के डर से उसे ही डांटते थे और उसे मारते भी थे। वह इस कदर परेशान थी कि उसे कुछ भी समझ नहीं आया तो उसने जान देने का फैसला कर लिया।

इसे भी पढ़ें- बाथरूम में नहाने गई दुल्हन ने किया सुसाइड, कुछ घंटों में आने वाली थी बारात

इसे भी पढ़ें- दिशा सालियान सुसाइड केस में आदित्य ठाकरे की भूमिका की जांच करेगी एसआईटी

nyaay24news
Author: nyaay24news

disclaimer

– न्याय 24 न्यूज़ तक अपनी बात, खबर, सूचनाएं, किसी खबर पर अपना पक्ष, लीगल नोटिस इस मेल के जरिए पहुंचाएं। nyaaynews24@gmail.com

– न्याय 24 न्यूज़ पिछले 2 साल से भरोसे का नाम है। अगर खबर भेजने वाले अपने नाम पहचान को गोपनीय रखने का अनुरोध करते हैं तो उनकी निजता की रक्षा हर हाल में की जाती है और उनके भरोसे को कायम रखा जाता है।

– न्याय 24 न्यूज़ की तरफ से किसी जिले में किसी भी व्यक्ति को नियुक्त नहीं किया गया है। कुछ एक जगहों पर अपवाद को छोड़कर, इसलिए अगर कोई खुद को न्याय 24 से जुड़ा हुआ बताता है तो उसके दावे को संदिग्ध मानें और पुष्टि के लिए न्याय 24 को मेल भेजकर पूछ लें।

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS

Top Headlines

Live Cricket