Follow us

लखनऊ पुलिस ने 24 घंटे में चोरों का किया भंडाफोड़ !

लखनऊ| राजधानी की विभूतिखंड पुलिस ने दो शातिर लुटेरों को अरेस्ट किया है। पुलिस ने इनके पास से लूट के दो मोबाइल बरामद किए हैं
पकड़े गये अभियुक्त के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा रही है।

मामले की जानकारी देते हुए पुलिस उपायुक्त पूर्वी, प्रबल प्रताप सिंह ने पत्रकारों को बताया कि सोमवार तीन अप्रैल को राजधानी के विभूतिखंड थाने में दूरदर्शन स्टॉफ कालोनी के रहने वाले मोहित राज पुत्र चन्द्रशेखर ने मोबाइल छिनैती की शिकायत दर्ज कराई थी। उन्होंने पुलिस को दिए शिकायती पत्र में बताया था कि जेबीआर होटल के पास से अज्ञात लोगों ने उनका मोबाईल छीन लिया था। इस पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने मुकेश सिंह उर्फ रवि प्रताप सिंह पुत्र लालसिंह उर्फ वीरसिंह निवासी ग्राम लोलाई थाना चिनहट जनपद लखनऊ उम्र करीब 23 वर्ष और तरुण उर्फ तरून पुत्र शिवराज निवासी निजामपुर मल्हौर थाना चिनहट जनपद लखनऊ उम्र करीब 24 वर्ष को गिरफ्तार कर लिया है। इनके पास से पुलिस को दो मोबाईल फोन के साथ घटना के प्रयुक्त की जाने वाली होंडा एक्टिवा स्कूटी गाड़ी संख्या UP 32 HA 5705 बरामद किया है… साथ ही पुलिस उपायुक्त ने पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवालों का जवाब देते हुए कहा की ये अभियुक्त उन लोगों को अपना टारगेट बनाते थे जो फ़ोन पर बात करते हुए सड़कों पर चलते थे वही चोरी के फ़ोन को बेचकर दोनों अभियुक्त अपने शौक पूरे करते थे.. सबसे बड़ी बात यह है की घटना के सिर्फ 24 घंटे के भीतर पुलिस ने दोनों अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया है और उन पर क़ानूनी कार्रवाई भी की जा रही है.

इसे भी पढ़े_यूपी में कांग्रेस ने इन सीटों पर उतारे प्रत्याशी, रायबरेली-अमेठी पर संशय बरकरार

इसे भी पढ़े_Lok Sabha Election 2024: चुनावी समर में उतरी बीजेपी, लेकिन प्रत्याशियों के गुणा गणित में उलझी सपा-बसपा

nyaay24news
Author: nyaay24news

disclaimer

– न्याय 24 न्यूज़ तक अपनी बात, खबर, सूचनाएं, किसी खबर पर अपना पक्ष, लीगल नोटिस इस मेल के जरिए पहुंचाएं। nyaaynews24@gmail.com

– न्याय 24 न्यूज़ पिछले 2 साल से भरोसे का नाम है। अगर खबर भेजने वाले अपने नाम पहचान को गोपनीय रखने का अनुरोध करते हैं तो उनकी निजता की रक्षा हर हाल में की जाती है और उनके भरोसे को कायम रखा जाता है।

– न्याय 24 न्यूज़ की तरफ से किसी जिले में किसी भी व्यक्ति को नियुक्त नहीं किया गया है। कुछ एक जगहों पर अपवाद को छोड़कर, इसलिए अगर कोई खुद को न्याय 24 से जुड़ा हुआ बताता है तो उसके दावे को संदिग्ध मानें और पुष्टि के लिए न्याय 24 को मेल भेजकर पूछ लें।

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS

Top Headlines

Live Cricket