Follow us

चाइल्ड ट्रैफिकिंग मामले में CBI की रेड, 8 बच्चों का किया गया रेस्क्यू, कई हिरासत में

चाइल्ड ट्रैफिकिंग

नई दिल्ली। चाइल्ड ट्रैफिकिंग मामले में सीबीआई को बड़ी सफलता मिली है। जांच एजेंसी ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में छापेमारी कर सात-आठ बच्चों का रेस्क्यू किया है। राजधानी के साथ-साथ एनसीआर के कुछ इलाकों में भी जांच एजेंसी ने रेड की। रेस्क्यू किये गए बच्चों की खरीद-फरोख्त की जा रही थी। एजेंसी ने चाइल्ड ट्रैफिकिंग में शामिल कुछ लोगों ने हिरासत में भी लिया है और अब उनसे पूछताछ की जा रही है।

जानकारी के मुताबिक, सीबीआई ने छापेमारी के बाद जिन लोगों को पकड़ा है, उनमें अस्पताल के वार्ड बॉय समेत कुछ महिलाएं और पुरुष शामिल हैं। खबर है कि सीबीआई ने शुक्रवार को दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में रेड की। इस दौरान जांच टीम ने दिल्ली के केशवपुरम के एक घर से दो नवजात शिशुओं को रेस्क्यू किया। शुरुआती जांच में मामला नवजात बच्चों की खरीद फरोख्त का लग रहा है। सीबीआई की टीम इस मामले में बच्चों को बेचने वाली महिला और खरीदने वाले व्यक्ति से पूछताछ कर रही है।

बताया जा रहा है कि पिछले दिनों दिल्ली के अस्पतालों से बच्चों के गायब होने की खबरें आई थीं। इसके बाद जांच एजेंसी को बच्चों की खरीद-फरोख्त किये जाने के मामला पता चला था। कहा जा रहा है कि इन दोनों तारों को आपस में जोड़कर ही ये छापेमारी की गई है।आपको बता दें कि राजधानी में देश के कुछ सबसे बड़े अस्पताल मौजूद हैं। वहीं दर्जनों अस्पताल ऐसे भी हैं, जहां डिलीवरी की सुविधा होती है। ऐसे में कुछ अपराधी इसका फायदा उठाकर मैटरनिटी वार्ड से बच्चों को गायब कर उनकी खरीद-फरोख्त कर रहे हैं, जिस पर अब सीबीआई ने शिकंजा कसना शुरू कर दिया है।

इसे भी पढ़ें- ED, CBI और IT का इस्तेमाल कर BJP ने वसूला चंदा: अजय राय

इसे भी पढ़ें- CBI ने GST इंस्पेक्टर को 5 हजार रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा

nyaay24news
Author: nyaay24news

disclaimer

– न्याय 24 न्यूज़ तक अपनी बात, खबर, सूचनाएं, किसी खबर पर अपना पक्ष, लीगल नोटिस इस मेल के जरिए पहुंचाएं। nyaaynews24@gmail.com

– न्याय 24 न्यूज़ पिछले 2 साल से भरोसे का नाम है। अगर खबर भेजने वाले अपने नाम पहचान को गोपनीय रखने का अनुरोध करते हैं तो उनकी निजता की रक्षा हर हाल में की जाती है और उनके भरोसे को कायम रखा जाता है।

– न्याय 24 न्यूज़ की तरफ से किसी जिले में किसी भी व्यक्ति को नियुक्त नहीं किया गया है। कुछ एक जगहों पर अपवाद को छोड़कर, इसलिए अगर कोई खुद को न्याय 24 से जुड़ा हुआ बताता है तो उसके दावे को संदिग्ध मानें और पुष्टि के लिए न्याय 24 को मेल भेजकर पूछ लें।

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS

Top Headlines

Live Cricket