Follow us

अयोध्या: रामनवमी पर 20 घंटे दर्शन देंगे रामलला, ट्रस्ट की बैठक में हुआ फैसला 

अयोध्या

अयोध्या। रामनवमी के मौके पर यानी 15 से 17 अप्रैल तक राममंदिर दर्शकों के लिए 20 घंटे खोला जाएगा। इस बात पर श्रीरामजन्मभूमि न्यास की बैठक में सहमति बन गई है। रामलला के राग-भोग व श्रृंगार के समय को छोड़कर बाकी पूरे समय  मंदिर खुला रहेगा। इसके अलावा अयोध्या धाम समेत शहर के बाजारों में 100 स्थानों पर एलईडी स्क्रीन के जरिये रामजन्मोत्सव का लाइव प्रसारण भी प्रसार भारती के माध्यम से कराया जाएगा।

जानकारी के मुताबिक रामजन्मभूमि परिसर में पहली पाली में राममंदिर निर्माण समिति की बैठक हुई। इसके बाद  दोपहर में मणिरामदास की छावनी में राममंदिर ट्रस्ट की बैठक हुई, जिसमें रामनवमी पर राम मंदिर को 20 घंटे तक खोलने पर सहमति बनी। ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने बताया कि रामलला के सुबह, दोपहर व रात में होने वाले राग-भोग व श्रृंगार में तीन से चार घंटे लगते हैं। इस समय को छोड़कर राममंदिर भक्तों के लिए खुला रहेगा। संतों का कहना है कि रामलला का जन्मदिन है तो उन्हें कुछ परेशानी तो झेलनी ही पड़ेगी।

चंपत राय ने श्रद्धालुओं से अपील की कि वे बिना मोबाइल फोन के दर्शन करने आएं। जूता-चप्पल व सामान भी अलग रखकर आएं। इससे न सिर्फ आसानी से दर्शन होंगे, बल्कि समय भी कम लगेगा।  बैठक में ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास, कोषाध्यक्ष गोविंद देव गिरि, निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्र, जगद्गुरु विश्व प्रसन्न तीर्थ, बिमलेंद्र मोहन प्रताप मिश्र, केंद्रीय गृह सचिव प्रशांत लोखंडे, महंत दिनेंद्र दास, डॉ़ अनिल मिश्र, जिलाधिकारी नितीश कुमार, विशेष आमंत्रित महंत कमलनयन दास शामिल रहे।

15 से 18 अप्रैल तक नहीं बनेंगे पास

चंपत राय ने बताया कि रामनवमी पर होने वाली भीड़ को देखते हुए वीआईपी दर्शन की कोई व्यवस्था नहीं रहेगी और न ही 15 से 18 अप्रैल तक पास बनेंगे, जिनके पास पहले से बने हैं, वह भी निरस्त हो जाएंगे।

इसे भी पढ़ें- अयोध्या: बालक राम को दिल खोलकर दान कर रहे राम भक्त, आभूषण भी चढ़ाये

इसे भी पढ़ें- दक्षिण कोरिया के लोगों का ननिहाल है अयोध्या, यहां जानें पूरी स्टोरी

nyaay24news
Author: nyaay24news

disclaimer

– न्याय 24 न्यूज़ तक अपनी बात, खबर, सूचनाएं, किसी खबर पर अपना पक्ष, लीगल नोटिस इस मेल के जरिए पहुंचाएं। nyaaynews24@gmail.com

– न्याय 24 न्यूज़ पिछले 2 साल से भरोसे का नाम है। अगर खबर भेजने वाले अपने नाम पहचान को गोपनीय रखने का अनुरोध करते हैं तो उनकी निजता की रक्षा हर हाल में की जाती है और उनके भरोसे को कायम रखा जाता है।

– न्याय 24 न्यूज़ की तरफ से किसी जिले में किसी भी व्यक्ति को नियुक्त नहीं किया गया है। कुछ एक जगहों पर अपवाद को छोड़कर, इसलिए अगर कोई खुद को न्याय 24 से जुड़ा हुआ बताता है तो उसके दावे को संदिग्ध मानें और पुष्टि के लिए न्याय 24 को मेल भेजकर पूछ लें।

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS

Top Headlines

Live Cricket