Follow us

Cyber Fraud: डिजिटल बंधक बनाकर डॉक्टर दंपति से नौ लाख की ठगी

Cyber Fraud

इंदौर।  देश के कोने-कोने से ऑनलाइन धोखाधड़ी के मामले सामने आ रहे हैं, लेकिन सरकार इस पर रोक नहीं लगा पा रही हैं।  इसी कड़ी में इंदौर में एक अज्ञात नंबर से कॉल आने के बाद एक डॉक्टर और उनकी पत्नी को करीब 53 घंटे तक ऑनलाइन बंधक बनाकर रखा गया। आरोपियों ने दंपति को धमकी भी दी और विदेश पार्सल भेजने के नाम पर उनसे करीब 900,000 रुपये वसूल लिए। स्काइप के माध्यम से वीडियो कॉल करने वाले प्रतिवादी ने खुद को एक सीमा शुल्क कर्मचारी बताया। पूरी घटना को लेकर दंपति ने इंदौर क्राइम ब्रांच में शिकायत दर्ज कराई है।

क्राइम ब्रांच को दो गई शिकायत में डॉक्टर दंपति ने बताया कि उन्हें वीडियो कॉल के जरिए 53 घंटे तक बंधक बनाकर रखा गया और उनसे लगभग 900,000 रुपये की ठगी की गई। मामले की जानकारी देते हुए एडिशनल डीसीपी राजेश दंडुतिया ने कहा कि डॉक्टर और उनकी पत्नी को एक कूरियर कंपनी ने सूचित किया था कि उनके पैकेट में एमडीएमए ड्रग मिला है। इस संबंध में आपको मुंबई कस्टम विभाग से संपर्क करना होगा। इसके कुछ ही समय बाद, डॉक्टर और उनकी पत्नी को एक फर्जी कस्टम एजेंट का फोन आया और उसने उन्हें मुंबई बुलाया।  इसके बाद ऑनलाइन बयान दर्ज करने के लिए स्काइप वीडियो कॉल के माध्यम से करीब 53 घंटे तक पूछताछ की गई और अलग-अलग अकाउंट में लाखों रुपए ट्रांसफर करवाए गए।

इसके साथ ही डॉक्टर दंपति को 15 बच्चों के अपहरण के मामले में भी डरा धमका कर करीब 9 लाख रुपए वसूले गए। डॉक्टर दंपति के पास पैसा खत्म होने के बाद बदमाशों ने फोन काट दिया। शिकायत मिलने के बाद अब पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

इसे भी पढ़ें-रियल एस्टेट कारोबारी ने पूर्व ब्लॉक प्रमुख के पति पर लगाया करोड़ों की ठगी का आरोप

इसे भी पढ़ें-EOW की जांच में फंसे सहारा ग्रुप के 15 अधिकारी, 50 करोड़ की ठगी का आरोप

nyaay24news
Author: nyaay24news

disclaimer

– न्याय 24 न्यूज़ तक अपनी बात, खबर, सूचनाएं, किसी खबर पर अपना पक्ष, लीगल नोटिस इस मेल के जरिए पहुंचाएं। nyaaynews24@gmail.com

– न्याय 24 न्यूज़ पिछले 2 साल से भरोसे का नाम है। अगर खबर भेजने वाले अपने नाम पहचान को गोपनीय रखने का अनुरोध करते हैं तो उनकी निजता की रक्षा हर हाल में की जाती है और उनके भरोसे को कायम रखा जाता है।

– न्याय 24 न्यूज़ की तरफ से किसी जिले में किसी भी व्यक्ति को नियुक्त नहीं किया गया है। कुछ एक जगहों पर अपवाद को छोड़कर, इसलिए अगर कोई खुद को न्याय 24 से जुड़ा हुआ बताता है तो उसके दावे को संदिग्ध मानें और पुष्टि के लिए न्याय 24 को मेल भेजकर पूछ लें।

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS

Top Headlines

‘मोदी जी को कौन रोक रहा वायनाड से लड़ लें, ‘ प्रियंका के नामांकन होते ही कांग्रेस प्रधानमंत्री को चुनौती देगी!

राहुल गांधी ने वायनाड लोकसभा सीट से इस्तीफा दे दिया है वही राहुल गाँधी अब रायबरेली का प्रतिनिधित्व करेंगे कांग्रेस

Live Cricket