Follow us

अयोध्या: भगवान सूर्य ने किया प्रभु श्री राम के ललाट पर तिलक

अयोध्या

अयोध्या। रामनवमी के दिन वैज्ञानिक दर्पण के जरिए सूर्य की किरण को भगवान रामलला के ललाट पर पहुंचाया गया। इस दौरान सूर्य की किरणों ने लगभग 4 मिनट तक रामलला के ललाट तिलक किया। दूसरी तरफ श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ने सोशल मीडिया पर पोस्ट किया कि श्री रामनवमी की पावन बेला में आज, श्री राम जन्मभूमि मंदिर में प्रभु श्री रामलला सरकार का दिव्य अभिषेक किया गया। मंदिर में सुबह आस्थावानों की भारी भीड़ जुटी।

रामनवमी के मौके पर बड़ी संख्या में श्रद्धालु अयोध्या के राम मंदिर में भगवान रामलला के दर्शन का आनंद लेने पहुंचे. रामनवमी के मौके पर अयोध्या में राम मंदिर के अलावा हनुमानगढ़ी भी भक्तों से खचाखच भरी है.रामनवमी पर अयोध्या में सुरक्षा व्यवस्था के बारे में बात करते हुए आईजी प्रवीण कुमार ने कहा, ”व्यवस्था पहले ही कर ली गई है। हमने क्षेत्र को दो सेक्टरों में विभाजित किया है।” दर्शन सुबह 3:30 बजे शुरू हुए। उन्होंने ट्विटर पर एक तस्वीर साझा की और लिखा, “आज, श्री राम नवमी के शुभ दिन पर, श्री राम जन्मभूमि मंदिर में भगवान श्री रामलला सरकार का पवित्र अनुष्ठान हुआ।”

इससे पहले श्रीराम जन्मभूमि के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येन्द्र दास ने कहा कि सूर्य तिलक की सफल जांच पूरी हो चुकी है। वैज्ञानिकों ने जिस तरह से इसे आजमाया वह बेहद सराहनीय और बेहद आश्चर्यजनक है क्योंकि सूर्य की किरणें सीधे भगवान रामलला के माथे पर पड़ीं। जैसे ही सूर्य की किरणें भगवान राम के माथे पर पड़ीं, यह स्पष्ट हो गया कि भगवान सूर्य पुनर्जीवित हो गए हैं।

उन्होंने आगे कहा कि त्रेता युग में जब भगवान राम ने अवतार लिया था तब भी सूर्य देव एक माह तक अयोध्या में रहे थे। त्रेता युग का यह दृश्य अब कलियुग में साकार हो रहा है। जब हमने भगवान राम की आरती की और सूर्य देव ने उनके माथे पर मुकुट रखा तो यह दृश्य बहुत ही प्रभावशाली लग रहा था।

इसे भी पढ़ें-अयोध्या: रामनवमी पर हनुमानगढ़ी के लिए भी जारी किया गया शेड्यूल, जानें कब-कब कर सकेंगे दर्शन

इसे भी पढ़ें-अयोध्या: रामनवमी पर सूर्य की किरणों से होगा रामलला का अभिषेक

nyaay24news
Author: nyaay24news

disclaimer

– न्याय 24 न्यूज़ तक अपनी बात, खबर, सूचनाएं, किसी खबर पर अपना पक्ष, लीगल नोटिस इस मेल के जरिए पहुंचाएं। nyaaynews24@gmail.com

– न्याय 24 न्यूज़ पिछले 2 साल से भरोसे का नाम है। अगर खबर भेजने वाले अपने नाम पहचान को गोपनीय रखने का अनुरोध करते हैं तो उनकी निजता की रक्षा हर हाल में की जाती है और उनके भरोसे को कायम रखा जाता है।

– न्याय 24 न्यूज़ की तरफ से किसी जिले में किसी भी व्यक्ति को नियुक्त नहीं किया गया है। कुछ एक जगहों पर अपवाद को छोड़कर, इसलिए अगर कोई खुद को न्याय 24 से जुड़ा हुआ बताता है तो उसके दावे को संदिग्ध मानें और पुष्टि के लिए न्याय 24 को मेल भेजकर पूछ लें।

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS