Follow us

रक्षा सौदे में दिखा भारत का दम, फिलीपींस को सौंपी गई 3000 करोड़ कीमत की ब्रह्मोस मिसाइल

BrahMos missile

नई दिल्ली। भारत ने शुक्रवार (19 अप्रैल) को फिलीपींस को शक्तिशाली ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइलों की पहली खेप सौंपी। इसे देश के रक्षा निर्यात के लिए एक बड़े कदम के तौर पर देखा जा रहा है। भारतीय वायु सेना ने विशेष विमानों से फिलीपींस तक मिसाइलें पहुंचाईं। इस दौरान भारत और फिलीपींस के अधिकारियों ने एक-दूसरे को मिठाई खिलाई।

चीन के साथ विवाद के बीच फिलीपींस को भारत से क्रूज मिसाइलें सौंपी गईं। दक्षिण चीन सागर में फिलीपींस और चीन की नौसेनाओं के बीच आए दिन झड़प होती रहती है। माना जा रहा है कि फिलीपींस खुद को चीनी सेना से बचाने के लिए इन मिसाइलों को चीन की ओर तैनात कर सकता है। दो साल पहले भारत और फिलीपींस के बीच क्रूज मिसाइल समझौता हुआ था। इस सौदे की कीमत 375 मिलियन डॉलर (लगभग 3,000 करोड़ रुपये) थी।

भारतीय वायु सेना का सी-17 ग्लोबमास्टर मालवाहक विमान ब्रह्मोस मिसाइलों की पहली डिलीवरी के साथ शुक्रवार को फिलीपींस पहुंचा। भारतीय टीम में वायु सेना, नौसेना और ब्रह्मोस मिसाइलों की एक टीम शामिल थी जो डिलीवरी के लिए इस एशियाई देश में पहुंची थी। मिसाइल फिलीपीन नौसैनिकों को सौंपी गई थी। इस दौरान भारतीय दल के अधिकारियों ने फिलिपिनो नौसैनिकों को मिठाई खिलाई और मिसाइल प्राप्त करने पर बधाई दी।

एक साल में भारत का रक्षा निर्यात 32.5% बढ़ा

भारत का रक्षा निर्यात हर साल बढ़ रहा है। वित्त वर्ष 2023-24 में भारत ने 2.63 अरब डॉलर यानी 21,083 अरब रुपये के हथियार और रक्षा उपकरण विदेशों में निर्यात किए। पिछले वर्ष की तुलना में इसमें 32.5% की वृद्धि हुई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल के एक दशक के दौरान भारत का रक्षा निर्यात तेजी से बढ़ा है। 2013-2014 की तुलना में पिछले दशक में रक्षा निर्यात 31 गुना बढ़ गया है।

फिलीपींस के अलावा अर्जेंटीना जैसे देशों ने भी ब्रह्मोस मिसाइल खरीदने में रुचि दिखाई है। ब्रह्मोस एयरोस्पेस प्राइवेट लिमिटेड, भारत और रूस का संयुक्त उद्यम, ‘ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल’ का उत्पादन करता है। इस मिसाइल को पनडुब्बियों, जहाजों, विमानों या भूमि प्लेटफार्मों से लॉन्च किया जा सकता है। ब्रह्मोस मिसाइल की गति मैक 2.8 है या ध्वनि की गति से तीन गुना अधिक गति से लक्ष्य पर हमला कर सकती है।

इसे भी पढ़ें-भारत के सम्मान और स्वाभिमान के लिए लड़ रही है बीजेपी: सीएम योगी

इसे भी पढ़ें-मुख्तार अंसारी: भारतीय सेना अधिकारी का पोता कैसे बना खूंखार अपराधी? जानिए 10 तथ्य

nyaay24news
Author: nyaay24news

disclaimer

– न्याय 24 न्यूज़ तक अपनी बात, खबर, सूचनाएं, किसी खबर पर अपना पक्ष, लीगल नोटिस इस मेल के जरिए पहुंचाएं। nyaaynews24@gmail.com

– न्याय 24 न्यूज़ पिछले 2 साल से भरोसे का नाम है। अगर खबर भेजने वाले अपने नाम पहचान को गोपनीय रखने का अनुरोध करते हैं तो उनकी निजता की रक्षा हर हाल में की जाती है और उनके भरोसे को कायम रखा जाता है।

– न्याय 24 न्यूज़ की तरफ से किसी जिले में किसी भी व्यक्ति को नियुक्त नहीं किया गया है। कुछ एक जगहों पर अपवाद को छोड़कर, इसलिए अगर कोई खुद को न्याय 24 से जुड़ा हुआ बताता है तो उसके दावे को संदिग्ध मानें और पुष्टि के लिए न्याय 24 को मेल भेजकर पूछ लें।

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS

Top Headlines

Live Cricket