Follow us

जालसाजों ने घर बैठे कमाई का लालच देकर दो लोगों से की 1.6 लाख की ठगी

ठगी

लखनऊ। साइबर जालसाजों ने घर बैठे कमाई का झांसा देकर दो लोगों से 1.80 लाख की ठगी कर ली। ठगी का अहसास होने पर पीड़ितों ने संबंधित थानों और साइबर सेल में मामला दर्ज कराया है।

जानकारी के मुताबिक राजधानी के मड़ियांव इलाके में रहने वाले सत्यव्रत पांडेय को एक शख्स ने गूगल मैप पर रिव्यू का टास्क देकर हजारों की चपत लगा दी। पीड़ित ने बताया कि जालसाज ने एक टास्क पूरा करने के बाद खाते में 150 रुपये ट्रांसफर किये। इसके बाद और काम के लिए निवेश करने का लालच दिया। कई बार में 82 हजार रुपये जमा करने के साथ ही काम करने के बावजूद रुपये नहीं मिलने पर पीड़ित को एहसास हुआ कि वह ठगी का शिकार हो गया है। पीड़ित की तहरीर पर पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पीड़ित सत्यव्रत पांडेय ने पुलिस को दिए शिकायती पत्र में बताया कि एक दिन उसके वॉट्सऐप पर एक मैसेज आया, जिसमें गूगल मैप पर रिव्यू देने के बदले 150 रुपये भुगतान का जिक्र था। उसने बताया कि टास्क करने पर खाते में 150 रुपये ऑनलाइन आ भी गए। इसके बाद जालसाज ने और टास्क के लिए टेलीग्राम जॉइन करने को कहा इसके बाद उसने घर बैठे कमाई करने का लालच देकर उनसे 1000 रुपये जमा करवाए गए। पीड़ित ने बताया कि जब काम पूरा हो गया तो उसके खाते में 1400 रुपये और आ गए। इसके बाद पीड़ित ने 3000 रुपये जमा किए और 4000 मिल गए। इसके बाद और ज्यादा कमाई की लालच में पीड़ित ने 7000 रुपये निवेश किए।

हालांकि इस बार रुपये नहीं आए। इसके बाद संपर्क करने पर पूरे भुगतान के लिए 21 हजार रुपये जमा करवाए गए, फिर 54 हजार और जमा करवाए। पूरे 82 हजार जमा करवाने के बाद जालसाजों ने उससे 89 हजार और निवेश करने को कहा और बड़े मुनाफे का लालच दिया। इस तरह से बार-बार की जा रही पैसों की मांग से उसे शक होने लगा कि वह ठगी का शिकार हो गया है। इस पर उसने पैसे वापस मांगे तो जालसाजों ने टरकाना शुरू कर दिया। पीड़ित की तहरीर पर मड़ियांव पुलिस ने शनिवार को मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

इधर पवन पुरी निवासी नितेश अग्रवाल को भी जालसाजों ने ऐसे ही घर बैठे कमाई का लालच देकर ठग लिया। इस मामले में बात करते हुए आलमबाग़ कोतवाली प्रभारी शिव शंकर महादेवन ने बताया कि पवन पुरी में रहने वाले नितेश अग्रवाल के वॉट्सऐप नंबर पर 20 अप्रैल को घर बैठे काम करने का ऑफर आया। मैसेज भेजने वाले नंबर पर कॉल करने पर फोन रिसीव करने वाली पल्लवी झा नाम की एक लड़की ने खुद को कंपनी का एचआर बताते हुए टेलीग्राम के जरिये सीनियर से बात करवाई।

इस दौरान फ्री टास्क पूरा करने पर रिटर्न की बात कही गई। शुरू में कुछ टास्क पूरा करने के बाद निवेश के साथ ही रिटर्न भी मिला। इसके बाद 25 अप्रैल को उनसे 79500 रुपये जमा करवाए गए। दिया गया टॉस्क पूरा करने के बाद भी भुगतान नहीं मिला तो उन्होंने फोन किया। इस पर 36 हजार रुपये और जमा करने की बात कही गई और एक साथ पूरे भुगतान का लालच दिया गया जिससे उन्हें ठगी का अहसास हो गया और उन्होंने इसकी जानकारी साइबर सेल को दी। साथ ही आलमबाग थाने पहुंच कर केस दर्ज करवाया है।

इसे भी पढ़ें- नौकरी दिलाने के नाम पर युवती से चार लाख 82 हजार की ठगी

इसे भी पढ़ें-बुजुर्ग ने सुझबूझ से ठगी का शिकार होने से खुद को बचाया

nyaay24news
Author: nyaay24news

disclaimer

– न्याय 24 न्यूज़ तक अपनी बात, खबर, सूचनाएं, किसी खबर पर अपना पक्ष, लीगल नोटिस इस मेल के जरिए पहुंचाएं। nyaaynews24@gmail.com

– न्याय 24 न्यूज़ पिछले 2 साल से भरोसे का नाम है। अगर खबर भेजने वाले अपने नाम पहचान को गोपनीय रखने का अनुरोध करते हैं तो उनकी निजता की रक्षा हर हाल में की जाती है और उनके भरोसे को कायम रखा जाता है।

– न्याय 24 न्यूज़ की तरफ से किसी जिले में किसी भी व्यक्ति को नियुक्त नहीं किया गया है। कुछ एक जगहों पर अपवाद को छोड़कर, इसलिए अगर कोई खुद को न्याय 24 से जुड़ा हुआ बताता है तो उसके दावे को संदिग्ध मानें और पुष्टि के लिए न्याय 24 को मेल भेजकर पूछ लें।

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS