Follow us

STF ने साइबर ठग को दबोचा, करता था ऑनलाइन गेमिंग का जरिये फ्रॉड

ऑनलाइन

लखनऊ। ऑनलाइन गेमिंग के जरिए लाखों रुपये की ठगी करने वाले गिरोह के सरगना को सोमवार को एसटीएफ ने गिरफ्तार कर लिया। शातिर ठग का नेटवर्क कई देशों में फैला हुआ है। वह फर्जी कॉल सेंटर चला कर ठगी को अंजाम देता था।

एसटीएफ ने आरोपी के खिलाफ गाजीपुर थाने में मुकदमा दर्ज कराया है। उसके आठ से दस साथियों की भी पहचान कर ली गई है, जिनकी तलाश की जा रही है। मामले की जानकारी देते हुए एसटीएफ डीएसपी धर्मेश कुमार शाही ने बताया कि बेली रोड नई कटरा प्रयागराज निवासी मो. दानिश को गिरफ्तार किया गया है। मौजूदा समय में वह इंदिरानगर में किराये के फ्लैट में रह रहा था और उसने ओम प्लाजा में फर्जी कॉल सेंटर खोल रखा था, जहां से वह अपने काले कारनामे को अंजाम देता था।

आरोपी ने एक वेबसाइट बनाई थी, जिस पर टेलीग्राम चैनल के खरीद-फरोख्त का धंधा करता था। विदेश में बैठे साइबर ठग इन चैनलों को ऑनलाइन खरीदते थे, जिनका इस्तेमाल वह ऑनलाइन गेमिंग ठगी में करते थे। यहां का चैनल होने की वजह से वह ठग पकड़ में नहीं आते हैं। एसटीएफ ने जब आरोपी का लैपटॉप खंगाला तो उसमें हजारों टेलीग्राम चैनल, तमाम क्यूआर कोड का डाटा मिला जिसे देख कर एसटीएफ भी दंग रह गई।

एसटीएफ डीएसपी ने बताया कि आरोपी के पास से विदेशी नागरिकों की डिटेल मिली है जिसमें अमेरिका, कनाडा, न्यूजीलैंड के नागरिकों का डाटा शामिल है। जांच में पता चला कि उन देशों में जिन दवाइयों पर बैन लगा है, उसका विज्ञापन वह विदेशी साइट्स पर फ्लैश कराते हैं और उसमें कॉन्टेक्ट नंबर देते है, इसके बाद जब भी कोई विदेशी नागरिक उस नंबर पर संपर्क करता है तो कॉल दानिश के कॉल सेंटर पर लैंड करती है। बस यही से शुरू होता है डीलिंग का काम। दानिश डीलिंग कर रकम ऑनलाइन जमा कराते हैं और फिर दवा कूरियर के जरिए भेजी जाती है।

एसटीएफ का कहना है कि दानिश खुद भी टेलीग्राम चैनलों का इस्तेमाल करता है। तमाम गेमिंग एप में वह इनका इस्तेमाल करता है। उसमें अपने साथी भी जोड़ता था जिनको दिखाता था कि रकम लगाने पर तीन चार गुना फायदा हो रहा है। ऐसे में आम लोग उसमें ज्यादा रकम लगाते थे, जो व्यक्ति अधिक रकम लगाता था वह हार जाता था। दरअसल, हार जीत का पूरा सिस्टम दानिश व उसकी टीम के पास रहता था। आरोपी कई वर्षों से ये खेल कर रहा था।

इसे भी पढ़ें-सावधान: यूपी बोर्ड के बच्चों को शिकार बना रहे साइबर ठग, दे रहे पास कराने का झांसा

इसे भी पढ़ें-ED और CBI का खौफ दिखा कर 50 लाख की ठगी, साइबर सेल ने सीज किए खाते

nyaay24news
Author: nyaay24news

disclaimer

– न्याय 24 न्यूज़ तक अपनी बात, खबर, सूचनाएं, किसी खबर पर अपना पक्ष, लीगल नोटिस इस मेल के जरिए पहुंचाएं। nyaaynews24@gmail.com

– न्याय 24 न्यूज़ पिछले 2 साल से भरोसे का नाम है। अगर खबर भेजने वाले अपने नाम पहचान को गोपनीय रखने का अनुरोध करते हैं तो उनकी निजता की रक्षा हर हाल में की जाती है और उनके भरोसे को कायम रखा जाता है।

– न्याय 24 न्यूज़ की तरफ से किसी जिले में किसी भी व्यक्ति को नियुक्त नहीं किया गया है। कुछ एक जगहों पर अपवाद को छोड़कर, इसलिए अगर कोई खुद को न्याय 24 से जुड़ा हुआ बताता है तो उसके दावे को संदिग्ध मानें और पुष्टि के लिए न्याय 24 को मेल भेजकर पूछ लें।

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS