Follow us

पर्यटकों से गुलजार हुई सतपुड़ा की रानी पचमढ़ी

Pachmarhi

इन दिनों स्कूलों में गर्मी की छुट्टियां चल रही हैं। ऐसे में लोग घूमने का प्लान बना रहे हैं। कोई रिश्तेदारों के घर जा रहा है तो कोई पर्यटक स्थलों की तरफ रुख कर रहा है। वैसे में देश में बहुत से पर्यटक स्थल है, जो बेहद खूबसूरत हैं लेकिन आज हम बात करेंगे मिनी कश्मीर कहे जाने वाले पचमढ़ी की। मध्य प्रदेश में स्थि पंचमढ़ी पर्यटकों को बेहद आकर्षित करती है। यहां स्थित प्रचीन पर्यटन स्थलों पर घूमकर पर्यटक छुट्टियों का आनंद ले रहे हैं। चमढ़ी में एक दर्जन से अधिक पर्यटन स्थल हैं। आइए जानते हैं पंचमढ़ी के पर्यटकों स्थलों की क्या-क्या खासियत है।

सबसे ऊंचा स्पॉट है धूपगढ़

धूपगढ़ को पचमढ़ी का सबसे ऊंचा स्थान माना जाता है। इसके साथ ही यहां एक झील, छोटे महादेव मंदिर, चारुगाह, पांडव गुफा, अफसरा विहार, रीछगढ़ आदि हैं।

पांडव गुफाएं

पचमढ़ी में पांच गुफाएं हैं,जिन्हें पांडवों की गुफाएं कहा जाता है। कहते हैं इन्हीं गुफाओं की वजह से यहां का नाम पचमढ़ी पड़ा। कहा जाता है कि वनवास के दौरान पांडव यहां ठहरे थे। पुरातत्वेत्ताओं का मानना है कि इन गुफाओं को 9वीं और 10वीं शताब्दी में गुप्त काल के दौरान बौद्धों ने बनवाया था।

बी-फॉल्स

पचमढ़ी के हिल स्टेशन पर बी फॉ नामक झरना है। इस झरने से साल भर पानी गिरता रहता है। बी फॉल में लगभग 150 फीट की ऊंचाई से पानी गिरता है। यहां का परिदृश्य बेहद खूबसूरत है। पचमढ़ी आने वाला कोई भी व्यक्ति यहां अवश्य आता है।

जटाशंकर

जटाशंकर गुफा पचमढ़ी शहर से 1.5 किमी दूरी पर स्थित है। इसके ऊपर आप एक विशाल विशाल शिलाखंड भी है बिना किसी सहारे के झूलती हुई प्रतीत होती है। हनुमान मंदिर भी जटाशंकर मार्ग पर ही स्थित है।

हन्डी खो

300 फीट की गहराई में स्थित हन्डी खो पचमढ़ी की सबसे गहरी और संकरी घाटी है। दोनों तरफ घने जंगलों से घिरी इस घाटी में बहते पानी आवाज साफ सुनाई देती है।

चौरागढ़ पहाड़ी

पचमढ़ी में चौरागढ़ पहाड़ी स्थित है। यहां पहुंचने के लिए पर्यटकों को चार किलोमीटर की खड़ी चढ़ाई चढ़नी पड़ती है। यहां भगवान महादेव का मंदिर है जिसके दर्शन के लोए लोग आते हैं।

इसे भी पढ़ें-पैरों में होने वाली सूजन को न करें नजरंदाज, हो सकता है इन गंभीर बीमारियों का संकेत

इसे भी पढ़ें-डॉक्टर सर्दी-खांसी में चावल खाने को करते हैं मना, यहां जानें क्यों

nyaay24news
Author: nyaay24news

disclaimer

– न्याय 24 न्यूज़ तक अपनी बात, खबर, सूचनाएं, किसी खबर पर अपना पक्ष, लीगल नोटिस इस मेल के जरिए पहुंचाएं। nyaaynews24@gmail.com

– न्याय 24 न्यूज़ पिछले 2 साल से भरोसे का नाम है। अगर खबर भेजने वाले अपने नाम पहचान को गोपनीय रखने का अनुरोध करते हैं तो उनकी निजता की रक्षा हर हाल में की जाती है और उनके भरोसे को कायम रखा जाता है।

– न्याय 24 न्यूज़ की तरफ से किसी जिले में किसी भी व्यक्ति को नियुक्त नहीं किया गया है। कुछ एक जगहों पर अपवाद को छोड़कर, इसलिए अगर कोई खुद को न्याय 24 से जुड़ा हुआ बताता है तो उसके दावे को संदिग्ध मानें और पुष्टि के लिए न्याय 24 को मेल भेजकर पूछ लें।

Leave a Comment

RELATED LATEST NEWS

Top Headlines

‘मोदी जी को कौन रोक रहा वायनाड से लड़ लें, ‘ प्रियंका के नामांकन होते ही कांग्रेस प्रधानमंत्री को चुनौती देगी!

राहुल गांधी ने वायनाड लोकसभा सीट से इस्तीफा दे दिया है वही राहुल गाँधी अब रायबरेली का प्रतिनिधित्व करेंगे कांग्रेस

Live Cricket